नीलम बन गई पहले प्रयास में ही जज : यही थी बचपन की तमन्ना

रवि प्रकाश जूनवाल
हैलो सरकार ब्यूरो प्रमुख
जयपुर। कहते हैं “मेहनत किसी की मोहताज नहीं होती” जी हां, यह बात पूरे सौलह आने सही है। लेकिन मेहनत अपना रंग तभी दिखाती है जब मेहनत करने वाले लोग मेहनत के रंग को बड़ी लगन एवं आत्मविश्वास के साथ कर्म रूपी कुंड में घोलते हैं।

राजस्थान न्यायिक सेवा में पहले ही प्रयास में चयनित सुश्री नीलम मीणा


काबिले गौर है कि राजस्थान उच्च न्यायलय द्वारा आयोजित राजस्थान न्यायिक सेवा परीक्षा में पहले ही प्रयास में सुश्री नीलम मीना का चयन हुआ। राज्य स्तरीय चयन सूची में सुश्री मीना की 114वीं रैंक आयी है।
सुश्री नीलम मीना सूरजपोल वर्तमान में जगतपुरा निवासी है। सुश्री मीना ने बताया कि उनका बचपन से ही राजस्थान न्यायिक सेवा में जाने की इच्छा थी और मेरी इच्छा को पूर्ण करने में मेरे माता-पिता का पूर्ण सहयोग रहा है। सुश्री नीलम की माताजी वर्तमान में शासन सचिवालय में सहायक शासन सचिव के पद पर एवं पिताजी श्री सूरज प्रकाश मीना राजस्थान लेखा सेवा में संयुक्त निदेशक के पद पर कार्यरत हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here