लगातार एटीएम तोड़ने की वारदातों से हरकत में आया पुलिस महकमा

हैलो सरकार क्राइम रिपोर्टर
कोटपूतली : राजस्थान की राजधानी जयपुर के पुलिस क्षेत्र जयपुर ग्रामीण सहित नजदीकी जिलों के सीमावर्ती क्षेत्र में लगातार हो रही एटीएम तोड़ने की वारदात पुलिस के लिए चिंता का विषय बनी हुई है। इसी को लेकर जयपुर रेंज के आईजी उमेश दत्ता के निर्देशानुसार जयपुर ग्रामीण पुलिस अधीक्षक मनीष अग्रवाल के सुपरविजन में एएसपी कार्यालय कोटपूतली में जयपुर रेंज के एटीएम नोडल अधिकारियों की बैठक की गई।
गौरतलब है कि राजस्थान पुलिस के जयपुर रेंज में रेंज स्तरीय एटीएम नोडल अधिकारियों की अपराध नियंत्रण बैठक में पुलिस अधिकारियों ने अपराधियों के जरिए एटीएम तोड़ने की वारदात सहित अन्य अपराधों को लेकर विचार विमर्श किया गया। साथ ही सभी को दिशा निर्देश दिये गये। वहीं पुलिस अधिकारियों ने अपने क्षेत्र के अनुभव साझा करते हुए घटनाओं को रोकने के लिए कार्य की योजना भी तैयार की।

बैठक में कोटपूतली एएसपी विधा प्रकाश, अलवर ग्रामीण एसपी सुरेश कुमार, झुन्झुनु एएसपी डॉ. तेजपाल, दौसा एएसपी दिनेश शर्मा, सीकर एएसपी रामचन्द्र मुंड, भिवाड़ी एएसपी अतुल शाहु, अलवर नॉर्थ एएसपी आईपीएस सुशील कुमार विश्नोई समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।


पुलिस महकमे के आला अधिकारियों की बैठक में विशेष तौर पर एटीएम की सुरक्षा बढ़ाने, एटीएम तोड़ने की वारदातों पर लगाम लगाने के लिए सूचना तंत्र को मजबूत करने और अपराधियों की धरपकड़ की योजना पर विस्तार से चर्चा की गई। साथ ही पुलिस अधिकारियों ने बैठक में अपने-अपने क्षेत्र के अनुभवों की विस्तार से जानकारी दी। और इन्हें रोकने के लिए किये जाने वाले प्रयासों के बारे में भी जानकारी दी। जिसमें जयपुर ग्रामीण, अलवर, सीकर अन्य जिलों में ऑपरेट करने वाले गैंग को खत्म करने की तैयार योजना में पुलिस दमखम लगा रही है।
वहीं बैठक में क्षेत्रीय विधायक और गृह राज्यमंत्री राजेन्द्र सिंह यादव भी शामिल हुए। बैठक में उन्होंने सभी पुलिस अधिकारियों को आवश्यक क्षेत्र सहित एटीएम की हो रही लूट की वारदातों की रोकथाम के लिये दिशा निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि ये आपराधिक घटनाएं पुलिस के साथ-साथ राज्य सरकार के लिए भी चिंता का विषय बनी हुई है। अपराधों पर नियंत्रण स्थापित करने व अपराधियों की धरपकड़ के लिए पुलिस इन्हें चिन्हित कर हर संभव प्रयास करने के लिये कहा।
पुलिस अधिकारियों से अपराध रोकने को लेकर किये जा रहे प्रयासों एवं कानून व्यवस्था का आवश्यक फिडबैक भी लिया। बैठक में कोटपूतली एएसपी विधा प्रकाश, अलवर ग्रामीण एसपी सुरेश कुमार, झुन्झुनु एएसपी डॉ. तेजपाल, दौसा एएसपी दिनेश शर्मा, सीकर एएसपी रामचन्द्र मुंड, भिवाड़ी एएसपी अतुल शाहु, अलवर नॉर्थ एएसपी आईपीएस सुशील कुमार विश्नोई समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।
अब देखना होगा कि क्या पुलिस के आला अधिकारियों की मीटिंग में एटीएम तोड़ने के अपराधों में गिरावट आएगी या नहीं। यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा। बहरहाल, एटीएम तोड़ने से आसपास के लोगों में पुलिस और अपराधियों को लेकर व्यापक रोष पनप रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here