बाबा किरोड़ी खुश हुआ कहा – पेपर लीक करने वालों की संपत्ति जप्त करे सरकार

रविप्रकाश जूनवाल
हैलो सरकार ब्यूरो प्रमुख

जयपुर। पेपर लीक करने वालों का दुश्मन और बेरोजगारों का दोस्त बाबा किरोड़ी लाल को इस बात की जानकारी मिली कि पेपर लीक करने वालों का कोचिंग सेंटर को जेडीए ने ढहाकर तहस-नहस कर दिया। डॉक्टर किरोड़ी लाल खुशी होते हुए बोले – राजस्थान सरकार धन्यवाद की पात्र है। उन्होंने पेपर लीक करने वालों की संपत्ति जप्त करने की मांग उठाई।

गौरतलब है कि वरिष्ठ अध्यापक भर्ती परीक्षा लीक मामले के मुख्य आरोपित भूपेंद्र सारण और सुरेश ढाका के कोचिंग संस्थान पर कार्रवाई को सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने सही बताया है। इसके लिए उन्होंने राज्य सरकार को धन्यवाद दिया है। साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार आरोपितों की सम्पत्ति जब्त करे और विद्यार्थियों की फीस वापस करे। जबकि दूसरी ओर सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने इस कदम को दिखावा बताया है।

सरकार की कार्रवाई सिकरोड़ दाल खुश और कहा जप्त करें संपतिया पेपर लीक करने वालों की



काबिले गौर है कि डॉक्टर किरोड़ी लाल मीणा ने राजस्थान सरकार से कहा कि अधिगम कोचिंग में पढ़ रहे अभ्यर्थियों की 70-70 हजार की फीस लौटाने के लिए सुरेश ढाका की संपत्ति नीलाम करनी चाहिए। क्योंकि एडमिशन लेने वाले बच्चों का कोई दोष नहीं है। दूसरी तरफ भाजपा सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कार्रवाई को राज्य सरकार का नाटक करार दिया है।

दूसरे की प्रॉपर्टी पर कार्रवाई कर सरकार हो रही है खुश। असल अपराधियों के खिलाफ को ठोस कार्रवाई नहीं-राज्यवर्धन सिंह राठौड़


उन्होंने कहा कि सरकार अपनी पीठ थपथपा रही है और कह रही है कि हमनें बुलडोजर चला दिया। जिसकी बिल्डिंग गिरी है, वह तो व्यक्ति कोई और ही है। कोचिंग संस्थान ने बिल्डिंग किराए पर ली हुई थी। नकल माफिया में जो बड़े लोग हैं, उन्हें राजस्थान सरकार संरक्षण दे रही है। सरकार को सीबीआई जांच करवानी चाहिए। सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ का कहना है कि यदि सीबीआई पेपर लीक प्रकरण की जांच करें तो अच्छे-अच्छे सफेदपोश हाथी सलाखों के पीछे होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here