भ्रष्ट अधिकारियों और राजनेताओं की करतूत :: बस्सी में भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ी करोड़ों की लागत से बनी सड़कें

ओम प्रकाश शर्मा
हैलो सरकार संवाददाता


बस्सी। बस्सी से हनुमानपुरा के लिए 6 माह पहले बनी सड़क सैंकड़ों जगह से टूट चुकी है। अभी मात्र 6 महीने पहले बनी बस्सी की सड़कों ने भ्रष्टाचार की पूरी पोल खोल कर रख दी है। ठेकेदारों की ओर से किए गए गुणवत्ता हीन सड़कों के निर्माण से विभाग पर भी सवालिया निशान खड़े हो गए हैं। मात्र 6 महीने में ही सैंकड़ों जगह से टूट चुकी ये गुणवत्ता हीन सड़क किसी जांच की मोहताज नहीं है।

मात्र 6 महीने पहले बनी बस्सी की सड़कों ने भ्रष्टाचार की पूरी पोल खोल कर रख दी

सड़क की मौजूदा स्थिति को देखते हुए ऐसा नहीं लगता कि इस सड़क का निर्माण 6 माह पहले पूरा हुआ था। ऐसे में सड़क टूटने से बस्सी क्षेत्र के सैकड़ों स्थानीय निवासी सड़क निर्माण में हुए भ्रष्टाचार से बहुत आक्रोशित है। स्थानीय लोगों ने कहा कि ठेकेदारों अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों की मिलीभगत से सड़क निर्माण में गुणवत्ता हीन कार्य किया गया है। जिसके कारण सड़क सैकड़ों जगह से टूट चुकी है और सैकड़ों जगहों से टूट चुकी सड़कों को भ्रष्टाचार में मिलीभगत करने वाले ठेकेदार ने पैच वर्क का कार्य भी शुरू कर दिया है। जिससे जनता में भ्रष्टाचार के प्रति ज्यादा आक्रोश नहीं फैलेे। लेकिन स्थानीय सड़कें भ्रष्टाचार के बारे में हर जगह आम जनता को चीख चीखकर बताती नजर आ रही है।
स्थानीय जनता ने बताया कि 20-25 साल में पहली बार भ्रष्टाचार के लिए विकास किया गया है। जिससे सरकार को करोड़ रुपए का बजट उठाकर गुणवत्ताहीन विकास कार्य करके जनता को बेवकूफ बनाने का कार्य किया गया है। ऐसे भ्रष्टाचारियों के खिलाफ जनता ने जांच करके सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की है और क्षेत्र के लोगों ने सड़क निर्माण में हुए भ्रष्टाचार की जांच की मांग की।

बस्सी से हनुमानपुरा के लिए 6 माह पहले बनी सड़क सैंकड़ों जगह से टूट चुकी
6 महीने में ही सैंकड़ों जगह से टूट चुकी ये गुणवत्ता हीन सड़क किसी जांच की मोहताज नहीं
भ्रष्टाचार में मिलीभगत करने वाले ठेकेदार ने पैच वर्क का कार्य भी शुरू कर दिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here