किरोड़ी लाल ने कहा गहलोत ड्रामेबाज :: कांग्रेस हाईकमान की आंखों में झोंकी धूल

रवि प्रकाश जूनवाल
हैलो सरकारी ब्यूरो प्रमुख


जयपुर : डॉ किरोड़ी लाल मीणा भारतीय जनता पार्टी राजस्थान प्रदेश में अकेले ऐसे नेता है जो लगातार कांग्रेस सरकार पर आक्रमण करते हुए नजर आते रहते हैं। हालांकि भारतीय जनता पार्टी हाईकमान भी इस बात को जानता हैं कि किसी भी मुद्दे पर राजस्थान प्रदेश में शुरुआत करने वाले भारतीय जनता पार्टी की एकमात्र नेता एवं राज्यसभा सांसद डॉक्टर किरोड़ी लाल मीणा है।
गौरतलब है कि राजस्थान में पिछले कुछ दिनों से चल रहे सियासी संग्राम के बाद बीजेपी नेता राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने दौसा में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर बड़ा हमला बोला। डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पद का लालच नहीं होने की बात कहते हैं लेकिन एक साल के लिए सीएम बने रहने के लिए पूरा ड्रामा भी उन्होंने कराया। बीजेपी सांसद ने कहा कि बिना मुख्यमंत्री की शह के शांति धारीवाल इतना बोल नहीं सकते थे, महेश जोशी व्हिप जारी कर शांति धारीवाल के घर बैठक नहीं बुला सकते थे और प्रताप सिंह खाचरियावास बढ़-चढ़कर बयानबाजी नहीं कर सकते थे। इस प्रकार से राजस्थान प्रदेश की जनता को बेवकूफ बनाना गहलोत के लिए अच्छा नहीं है।
श्री मीणा ने कहा कि बिना मुख्यमंत्री के इशारे व सहयोग से प्रदेश में यह सियासी ड्रामा संभव नहीं था। उन्होंने कहा कि गांधी परिवार की बात मानने का दावा करने वाले अशोक गहलोत ने गांधी परिवार की बात नहीं मानी, पद का लोभ नहीं होने की बात कहने वाले मुख्यमंत्री ने पद का लोभ दिखाया और अनुशासन वाले मुख्यमंत्री कहलाने वाले अशोक गहलोत ने पूरे सियासी ड्रामे में अनुशासनहीनता की।
एक सवाल के जवाब में राज्यसभा सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी पर भी कटाक्ष किया और कहा कि विधानसभा अध्यक्ष को यह बात सार्वजनिक करनी चाहिए कि कितने विधायकों व मंत्रियों ने इस्तीफे दिए। उन्होंने कहा कि इस्तीफा देने वाले मंत्री ट्रांसफर- पोस्टिंग और मीटिंग ले रहे हैं। ऐसे में उन पर पाबंदी लगाई जाए, वरना यह माना जाएगा कि सीपी जोशी भी इस ड्रामे में शामिल हैं।
राज्यसभा सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने चुटकी लेते हुए कहा कि जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत दिल्ली गए थे, तो उनके हाथ का एक पर्चा सार्वजनिक हो गया था। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पर्चा लीक कराने में माहिर हैं। पहले रीट, जेईएन और एसआई का पर्चा लीक हुआ और अब अपने फायदे के लिए सियासी पर्चा लीक करा दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here