लुटेरी दुल्हन का तांडव :: पति के रूप में विकलांग को बनाया अपना शिकार

हैलो सरकार क्राइम रिपोर्टर
करौली : राजस्थान प्रदेश के करौली जिले के टोडाभीम कस्बे के वार्ड 24 में एक युवक के साथ शादी का षड्यंत्र रचाकर ढाई लाख रुपये के साथ सोने चांदी के जेवर लेकर दुल्हन के फरार होने का मामला प्रकाश में आया है।
लुटेरी दुल्हन का शिकार पति अपनी पत्नी को कानूनी सजा दिलाने के लिए जरिए इस्तगासे के जरिये थाने में मामला दर्ज करवाया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। थानाधिकारी शैलेंद्र सिंह के अनुसार पीड़ित गोविंद सैनी ने बताया कि वह विकलांग है। उसके घर में उसकी वृद्ध मां रहती है। विकलांगता के कारण उसकी शादी नहीं हो पा रही थी। मां ने उसकी शादी करवाने के लिए काफी प्रयास किये लेकिन कहीं भी शादी तय नहीं हुई।
बड़ी मेहनत यह कोशिशों के बाद पीड़ित के बहनोई के ताऊ का लड़का सतीश उसके घर चार महिलाओं को लेकर आया। पीड़ित की बहिन का रिश्ते में देवर लगने के कारण वह उसी के घर पर रुका तथा उसने पीड़ित और उसकी मां को साथ में आई चार औरतों में से दो लड़कियों को दिखलाया तथा उनसे उन्हें गरीब घर का बताया और उनकी शादी करवाने की बात कही।

सावा खुलते ही लुटेरी दुल्हनों ने मचाया तांडव


शादी का शौकीन पीड़ित ने सोनम नाम की महिला से शादी करने की हां कर दी। पीड़ित ने बताया कि आरोपी ने विश्वास दिलाया कि अभी वरमाला पहनकर शादी कर लो बाद में इनके कागज मंगवा कर कोर्ट मैरिज करवा देगा। इसी बीच पंडा वाले मन्दिर टोडाभीम में पीड़ित की शादी सोनम नाम की महिला से वरमाला पहनाकर करवा दी।
वरमाला पहनाने के बाद लेन-देन का खेल शुरू हुआ तो आरोपी सतीश के कहने से 75 हजार रुपये पूजा उर्फ आरती उर्फ ललिता देवी दिये, जो उसने उसी दिन एसबीआई शाखा टोडाभीम से अपने खाते में डाले तथा 75 हजार रूपये सोनम को दिये जो उसने सतीश को दे दिये। आरोपी सोनम जिससे पीडित की शादी करवाई थी, उसको छोड़कर चले गये और पीड़ित से कहा कि सोनम की मार्कशीट सहित अन्य दस्तावेज लाकर कोर्ट मैरिज करवा देंगे।
लुटेरी दुल्हन सोनम पीड़ित के घर पर रुकी किन्तु उसने व्रत रखने की बात कहकर पीड़ित को दूर रहने को कहा। पीड़ित सुबह डेयरी पर काम करने चला गया तभी उसकी मां को सोनम ने कुछ खिला-पिला दिया, जिससे पीड़ित की मां गहरी नींद में सो गई। पीछे से लुटेरी दुल्हन ने दोपहर में पीड़ित के घर में रखे बक्से में 90 हजार रूपये तथा पीड़ित के जेवरात चांदी की पायजेब, अंगूठी, चुटकी, कोधनी एवं सोने की मटर माला व 1100 दो नई साड़ी तथा 500 की दो नई साड़ी को पीडित के बैग में भरकर घर से फरार हो गई।
लुटेरी दुल्हन के फरार होने के बाद पीड़ित की मां को जब होश में आया तो सोनम घर पर नहीं मिली तब उसकी मां ने बेटे को फोन कर बुलाया। पीड़ित ने उसको काफी तलाश किया पर वह कहीं नहीं मिली। सीसीटीवी फुटेज में वह बैग ले जाकर जाती हुई दिखी। पीडित ने सतीश को उसके मोबाईल पर फोन कर बताया तो उसने कहा कि तुम्हारा पैसा और जेवर सब आ जाएगा तथा सोनम भी आ जाएगी।
घटना के वारदात में शामिल आरोपी सतीश ने पीड़ित से कहा कि मैं उसको ढूंढ़गा और अपने मोबाईल में 2 हजार रुपये डालने की बात कही। पीडित ने सतीश के मोबाईल में पैसे डलवा दिये। पीड़ित ने पूजा उर्फ आरती उर्फ ललिता देवी के मोबाईल पर फोन किया। तो उसने पीड़ित का फोन नहीं उठाया। पीड़ित ने सोनम और मनीषा के मोबाईल पर भी फोन किये, लेकिन उनके मोबाईल चालू नहीं मिले।
इस तरह पीड़ित से षडयंत्र रचकर झूठी शादी का ढोंग कर दो लाख चालीस हजार रूपये व सोने चांदी के जेवरात लूटकर ले जाने का मामला दर्ज कराया है। पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुटी है। पुलिस जांच मे सोनम व मनीषा का आधारकार्ड फर्जी होना सामने आया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here