सुबह-शाम पतंग उड़ाओ और जेल जाओ, पतंगबाजी पर सरकार ने लगाई रोक

रविप्रकाश जूनवाल
हैलो सरकार ब्यूरो प्रमुख


जयपुर। अब सुबह-शाम पतंग उड़ाना गुजरे जमाने की बेकार बातें हो सकती है। जी हां, राजस्थान सरकार ने प्रदेश भर में सुबह और शाम के समय पतंगबाजी पर रोक लगा दी है।
गौरतलब है कि राजस्थान सरकार ने हाईकोर्ट के आदेशों का हवाला देते गृह विभाग ने इसकी एडवाइजरी जारी की है। गृह विभाग ने सभी कलेक्टरों को धारा 144 के प्रावधानों के हिसाब से सुबह 6 से 8 बजे और शाम को 5 से 7 बजे तक पतंगबाजी पर रोक लगाने को कहा है। कई जिलों में कलेक्टर इससे संबंधित आदेश पहले ही जारी कर चुके हैं।


गृह विभाग की एडवाइजरी में सुबह शाम पतंगबाजी पर रोक लगाने के पीछे पतंग उड़ाने में चाइनीज मांझा, प्लास्टिक, सिन्थेटिक मांझा, आयरन, ग्लास के धागों का उपयोग करने से पक्षियों और आम लोगों के जीवन पर खतरे का हवाला दिया गया है। प्रदेश में पिछले दिनों कई जगहों पर चाइनीज मांझे से गला कटने की घटनाएं हो चुकी हैं।
हालांकि राजस्थान हाईकोर्ट ने 22 अगस्त 2012 में ही सुबह 6 से 8 और शाम को 5 से 7 बजे तक पतंगबाजी पर रोक लगाने का आदेश दिया था। इसके साथ प्लास्टिक और चाइनीज मांझे की बिक्री और उपयोग पर भी रोक लगाने के आदेश दिए थे। राज्य सरकार ने हाईकोर्ट के आदेशों का जिक्र करते हुए एडवाइजरी जारी की है। सूत्र बताते हैं कि प्रतिबंधित समय में पतंग उड़ाते अगर कोई मिलता है तो उसकी गिरफ्तारी भी हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here